Summary of deliveries Important Topic for Storekeeper

Summary of deliveries: आज सबसे महत्वपूर्ण विषय पर जानने वाले है की स्टोर में मटेरियल कैसे प्राप्त करते है या रिसीव करते है साथ ही आज हम बताएंगे कि एक स्टोरकीपर या मटेरियल हैंडलर को मटेरियल रिसीव करते समय किन बातों पर ध्यान रखना चाहिए साथ ही साथ मटेरियल आइटम कोड या विवरण कैसे पता करें।

मटेरियल रिसीव करते समय सबसे जरूरी क्या होता है?

मटेरियल रिसीव करते समय सबसे जरूरी क्या होता है ये सवाल सयाद कम लोगो को पता होगा कि मटेरियल रिसीव करते समय हमें सबसे पहले अपने कंपनी का पीओ और समरी जरूरी होता है।

परचेज ऑर्डर (Purchase order) क्या है?

Purchase Order (P.O) Kya Hai?

सबसे पहले जान लेते हैं कि पीओ यानी परचेज ऑर्डर क्या है? और परचेज ऑर्डर से मटेरियल कैसे रिसीव किया जाता है।

आप स्टोरकीपर हो या कोई भी मटेरियल रिसीव करने के लिए पीओ यानी परचेज ऑर्डर की जरूरत सबको पड़ती है और परचेज ऑर्डर के बिना मटेरियल रिसीव नहीं होता है, अगर आप ने कर भी लिया तो इसे आपको काफी परेशानी असक्ती है।

क्योंकि सामग्री प्राप्त करते समय हमें मालूम होना चाहिए कि जो हम सामग्री प्राप्त कर रहे हैं वो हमारे कंपनी से कितना अनुरोध किया गया है और ये सामग्री किस प्रोजेक्ट या साईट के लिए मंगाया गया है।

परचेज ऑर्डर से मटेरियल चेक करने के फायदे?

अगर आप परचेज ऑर्डर से मटेरियल रिसीव करते हैं या आप परचेज ऑर्डर यानी पीओ जानते हैं तो इसे आपको बहुत फैदा होता है जैसे कि ये मटेरियल कितना आर्डर किया गया है, परचेज ऑर्डर से प्रोजेक्ट का नाम भी पता चलता है साथ ही साथ प्रोजेक्ट कोड और सबसे जरूरी उसकी यूनिट प्राइस की जानकारी मिल जाती है और भी बहुत कुछ है स्टेप बी स्टेप सीखेंगे।

डिलीवरी नोट और परचेज ऑर्डर में अंतर क्या है?

ये बहुत ही आसान सवाल है जिसे आपको जाना बहुत ही जरूरी है, डिलीवरी नोट हमें अपने कंपनी से नहीं बल्की सप्लायर से मिलता है, जिसे हमें देख कर मटेरियल रिसीव करके सप्लायर को अपने सिग्नेचर (Signature) और कंपनी के स्टैम के साथ वापस देना पड़ता है। ताकि उनको बाकि के पैसे कंपनी से लेने में और ये बताने में की ये सामान दे दिया गया है काम आता है।

जबकी परचेज ऑर्डर हमें अपने कंपनी से मिलता है या हमें खुद कंपनी के (ERP System) इरप सिस्टम से प्रिंट करना पड़ता है, जिसे देख कर हम मटेरियल की मिलान यानी मैच करते हैं कि सप्लायर का डिलीवरी नोट का डिस्क्रिप्शन और मटेरियल का डिस्क्रिप्शन हमारे खरीद ऑर्डर यानि Purchase order से मैच कर रहा है कि नहीं उसके बाद ही हम मटेरियल रिसीव करते हैं।

Summary of deliveries क्या है?

Summary of deliveries me open order ka kya matlab hota hai?

परचेज ऑर्डर के साथ आपको समरी भी देखनि पड़ती है, जिसे हम Summary of deliveries कहते है, जो कि कंपनी के (EPR System) इरप सिस्टम पे ये भी मिलता है जैसे हमारे लिए परचेज ऑर्डर जरूरी है वैसे ही हमें परचेस ऑर्डर समरी भी जरूरी है मटेरियल रिसीव करते हैं समय।

सामग्री प्राप्त करते समय Summary of deliveries क्यों जरूरी होता है?

मटेरियल रिसीव करते समय Summary of deliveries इस्लीए जरूरी होता है क्यों कि हो सकता है कि ये मटेरियल कंपनी के साइट पे किसी और स्टोर में रिसीव हुआ हो इसलिए हमें कन्फर्म करने के लिए और ऑन हैंड बैलेंस चेक करने के लिए इसकी जरूरत पड़ती है।

इसके बिना हम ये पता नहीं कर सकते कि ये सामग्री कितना प्राप्त हुआ है और कितना बाकि है या पहले से प्राप्त हो चूका है कि नहीं।

इसके मदद से हमें पता चलता है कि ये सामग्री का चालान हुआ है कि नहीं और हुआ है तो किसने और कहां किया है इसकी जानकारी हमें इसीसे मिलती है।

Summary of deliveries invoiced का क्या मतलब होता है?

Summary of deliveries invoiced का सबसे ज्यादा महत्व होता है, अगर आप मटेरियल हैंडलर है या स्टोरकीपर है तो आपको मटेरियल रिसीव करते समय समरी चेक करना चाहिए ताकि पता चले इसका इनवॉयस हुआ है कि नहीं यानी ये मटेरियल कंपनी में रिसीव हुआ है कि नहीं।

Summary of deliveries invoiced का मतलब होता है कि ये मटेरियल रिसीव हो चूका है और आप इसे दुबारा रिसीव नहीं कर सकते हैं।

Summary of deliveries Open order का क्या मतलब होता है?

Summary of deliveries में Open order का मतलब होता है कि ये मटेरियल अभी तक रिसीव नहीं हुआ है और आप इसे रिसीव कर सकते हैं, वही अगर आपको इनवॉइस्ड दिखता तो इसका मतलब है ये मटेरियल रिसीव हो चुका है और आपको इसे रिसीव नहीं करना चाहिए।

Purchase order confirmation kya hai?

परचेज ऑर्डर कन्फर्मेशन ये सारे प्रोसेस में अजता है, यानी सप्लायर से मटेरियल रिसीव करते समय कंपनी में किसी मटेरियल को रिक्वेस्ट के समय जिस प्रोसेस से गुजारना पड़ता है उसे ही परचेस ऑर्डर कन्फर्मेशन कहा जाता है ये मेरा मन्जिना है इसे से आम भाषा में परचेज ऑर्डर भी कहते हैं। परचेज ऑर्डर का दूसरा नाम ही परचेज ऑर्डर कन्फर्मेशन है जिसे हम एरप सिस्टम (Erp System) से प्रिंट करते हैं और सामग्री की जाच करते है और मालूमात पता करते है की इसकी क्या स्टेटस है।

उम्मीद करता हु ये पोस्ट आप सबको पसंद आएगी अगेर अच्छा लगे तो हमें जरुर कमेंट करे और अपनी राय दे।

P.O kya hota hai?

P.O का मतलब purchase order होता है, जिसे किसी कंपनी को सप्लायर से सामग्री लेने के लिए बनाना पड़ता है।

Summary of deliveries kya hai?

Summary of deliveries भी purchase order के तरह ही होता है लेकिन इसका इस्तेमाल तब किया जाता है जब सप्लायर से सामग्री रिसीव करनी होती है ताकि पता चले ये की सामग्री बाकि है या रिसीव हो चूका है।

Purchase order me kya kya likha jata hai?

Purchase order में कंपनी के सामग्री का नाम, उसकी राशी, मात्रा, कंपनी के साईट और प्रोजेक्ट के नाम, डिलीवरी लोकेशन, मोबाइल नंबर या ईमेल यानि कंपनी के डिटेल्स और अवश्यक सामग्री के बारे में लिखा होता है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: